WhatsApp Channel Join Now
Telegram Group Join Now
WhatsApp Group Join Now

अब घर बेठे ऊँचे दामो पर बेच सकेंगे अपनी फसल किसान ऑनलाइन हाथोहाथ होगा भुगतान देखे

नमस्कार किसान साथियों किसान अब घर बेठे बेच सकेंगे अपनी फसल किसान ऑनलाइन हाथोहाथ होगा भुगतान देखे साथियों आज के दौर में सरकार किसानो के लिए नई स्कीम लेकर आती रहती है उन्ही में से एक स्कीम किसानो के लिए सरकार लेकर आई है जिसमे अब किसान घर बैठे अपनी फसल को ऊँचे दामो पर दे सकेगा । जी हा किसान भाइयो राजस्थान सरकार किसानो के लिए अब एक नई स्कीम लेकर आई है।

Mustard rates today ; देशभर की हाजिर मंडियो में आज का सरसों का ताजा रेट

अब घर बेठे ऊँचे दामो पर बेच सकेंगे अपनी फसल

राजस्थान राज्य में कृषि उत्पादों की ऑनलाइन नीलामी को लेकर प्रक्रिया जल्द ही शुरू होने जा रही है। जिसमे पश्चिम भारत के प्रमुख कृषि उत्पादक स्थान – राजस्थान में गेहूं, सरसों, चना, जौ, मक्का एवं बाजरा सहित अन्य फसलो में ऑन लाइन नीलामी की व्यवस्था शुरू की गई है राजस्थान सरकार की और से जरी यह स्कीम जल्द ही शुरू होने की उम्मीद जताई जा रही है।

जिससे मंडियों एवं शहरों में बैठकर भी व्यापारी एवं आढ़तिए गांवों के खेत-खलिहान में रखें किसानों के उत्पादों की बोली लगा सकने में सक्षम हो जायेंगे मंडियों में भी ऑनलाइन बोली होगी और इसके लिए कर्मचारियों को ‘टैबलेट’ वितरित किये गए हैंअब घर बेठे ऊँचे दामो पर बेच सकेंगे अपनी फसल

योजना का नाम

राजस्थान सरकार द्वारा शुरू इस योजना का नाम ई-नाम योजना दिया गया है। राजस्थान में शुरू इस ई-नाम योजना मेंअब तक लगभग 15 लाख किसान तथा लगभग 1.07 लाख व्यापारी तथा कमीशन एजेंट अपना रजिस्ट्रेशन करवा चुके हैं।

प्रत्येक मंडी में गुणवत्ता प्रयोगशाला (क्वालिटी लेबोरेट्री) खोली गई है।दोस्तों केन्द्रीय कृषि मंत्रालय के इस ई-नाम के नए प्लातेफ़ोर्म से राजस्थान की लगभग 145 मंडिया जुडी हुई है जिसकी संख्या बढ़ने को लेकर प्रक्रिया जारी है।

क्या सच होगी साल 2023 में ग्वार की भविष्यवाणी जाने क्या रहेगा ग्वार का भाव

MCX NCDEX आज का वायदा बाजार भाव जानिए जीरा सोना चांदी ग्वार गम कॉटन वायदा भाव

किसान साथियों ऑनलाइन नीलामी के शुरूआती चरण में मंडी का गेटपास तथा उत्पादों का नवीनतम मूल्य ऑनलाइन हो गया है उसके बाद दुसरे चरण में कहीं से भी उत्पाद की बोली लगाकर उसके ऑनलाइन भुगतान की व्यवस्था की जाएगी।

अधिकारियों का कहना है कि ई नीलामी सभी पक्षों के लिए कारोबार की सुरक्षित आसान एवं लाभदायक प्रणाली साबित होगी।

इससे खरीददारी और व्यापार में पारदर्शिता बढ़ेगी और किसानो को न केवल उसकी उपज का अधिक लाभ युक्त मूल्य मिलेगा बल्कि उसका भुगतान भी तत्काल रूप से हाथोहाथ किसान को उसके बैंक खाते में प्राप्त हो जाएगा इस नई योजना से किसानों को एक फायदा यह भी होगा कि किसानो को अपना अनाज मंडियों में नहीं लाना पड़ेगा।

आज का बीकानेर मंडी भाव सरसों चना गेहूं मुंग मोठ ग्वार भाव में क्या रही हलचल जानिए

कैसे होगी भुगतान व्यवस्था

दोस्तों मंडियों में सीमित संख्या में व्यापारी बोली लगाते हैं जबकि ऑनलाइन इन सिस्टम में और ज्यादा संख्या में व्यापारी बोली लगा पाएंगे और जो व्यापारी अधिक बोली लगाएगा किसान अपनी फसल को उस व्यापारी को बेच पायेगा जिससे किसान को अपनी फसल का अच्छा दाम मिल सकेगा।

बोली लगाने के बाद जब सौदा तय हो जाये तो खरीद करने वाला व्यापारी ही किसान के खेत, गोदाम या मंडी से फसल उठाने और ले जाने का प्रबंध करेगा। किसान को उसकी फसल का भुगतान आरटीजीएस या नेट बैंकिंग के जरिए किया जाएगा।

आज के श्रीगंगानगर मंडी भाव जानिये कौनसी फसलो में रही तेजी देखें

मंडियों का भाव जानने के लिए यहाँ क्लिक करे Farming Xpert

दोस्तों हमारी वेबसाइट पर आपको रोजाना ताजा मंडी भाव, फसलो की तेजी मंदी रिपोर्ट. वायदा बाजार भाव, खेती बाड़ी समाचार, मौसम जानकारी और खेती बाड़ी से जुडी सभी जानकारियां उपलब्ध करवाई जाती है। साथियों व्यापार अपने विवेक से करे एवम किसी भी प्रकार का निवेश करने से पहले एक बार आंकड़े जरुर चेक करे। facebook और YOUTUBE पर हमसे जुड़ने के लिए सर्च करे FARMING XPERT

error: मित्र मेहनंत लगती है लिखने में , dmca लेना है तो कर लो कॉपी