WhatsApp Channel Join Now

rabi crops 2023 – फसलो का बिजाई आंकडा

rabi crops 2023 – नमस्कार किसान साथियो चालू सीजन 2023 में फसलो की बुवाई का आंकड़ा जानेगे इस पोस्ट में | कौनसी फसल कितने भाग में बोई गयी है |

rabi crops 2023
rabi crops 2023

किसान साथियो खेती बाड़ी से जुडी हर जानकारी के लिए विजिट जरुर करे | यहाँ आपको रोजाना मंडी भाव के साथ साथ खेती से जुडी हर जानकारी प्रदान की जाती है | किसान साथियो हमारा उदेश्य सिर्फ किसानो तक जानकारी पहुँचाना है | व्यापार अपने विवेक से करे |

यह भी जानेआज का नरमा कपास भाव | केन्द्रीय बजट हाइलाइट्स 2023 हिंदी

गुजरात में रबी फसलों का बिजाई क्षेत्र 2.65 लाख हेक्टेयर घटा देश के पश्चिमी भाग में अवस्थित एक महत्वपूर्ण गुजरात में उत्पादक राज्यफसलों के बिजाई क्षेत्र में 2.65 लाख हेक्टेयर की कृषि रबी गिरावट आ गई। राज्य कृषि विभाग द्वारा जारी अंतिम बिजाई रिपोर्ट के अनुसार 2021-22 दौरान गुजरात में रबी फसलों का के कुल उत्पादन क्षेत्र 47.38 हॅक्टेयर रहा था जो लाख 2022-23 में घटकर 44.73 लाख हेक्टेयर रह गया।

कृषि विभाग के आंकड़ों के मताबिक पिछले सीजन की तुलना में चालू सीजन के दौरान गुजरात गेहूं का उत्पादन क्षेत्र 12.50 लाख हेक्टेयर से सुधरकर लाख हेक्टेयर, मक्का में 12.93 का बिजाई क्षेत्र 89 हजार हेक्टेयर से बढ़कर 1.06 लाख हेक्टेयर, अन्य अनाजों का रकबा 9 हजार हेक्टेयर से सुधरकर क्षेत्र 89 हजार हेक्टेयर से बढ़कर 1.06 लाख हेक्टेयर,

अन्य अनाजों का रकबा 9 हजार हेक्टेयर से सुधरकर 10 हजार हेक्टेयर तथा अनाजी फसलों का कुल क्षेत्रफल 13.63 लाख हेक्टेयर से बढ़कर 14.22 लाख हेक्टेयर पर पहुंचा मगर इसमें ज्वार का रकबा 15 हजार हेक्टेयर से गिरकर 13 हजार हेक्टेयर रह गया। rabi crops 2023

दलहन फसलो और गन्ने का बिजाई आंकड़ा निम्न है – rabi crops

दूसरी ओर वहां दलहन फसलों की बिजाई में भारी गिरावट आई और क्षेत्रफल 11.47 लाख घटकर 8.07 लाख इसका हेक्टेयर से हेक्टेयर पर सिमट गया। इसके तहत खासकर चना का उत्पादन क्षेत्र 11.01 लाख हेक्टेयर से लुढ़ककर 7.65 लाख हेक्टेयर तथा अन्य दलहनों का रकबा 45 हजार हेक्टेयर से गिरकर 43 हजार हेक्टेयर रह गया।

इसी तरह तिलहन फसलों का बिजाई क्षेत्र 3.41 लाख हेक्टेयर से घटकर 3.07 लाख हेक्टेयर पर आ गया। इसके तहत खासकर सरसों का क्षेत्रफल 3.40 लाख हेक्टेयर से गिरकर 3.05 लाख हेक्टेयर पर सिमट गया।

गुजरात में गन्ना का उत्पादन क्षेत्र 2.23 लाख हेक्टेयर से लाख लुढ़ककर हेक्टेयर रह गया 1.81 जबकि मसाला फसलों के रकबे में बढ़ोत्तरी दर्ज की गई। जीरा का क्षेत्र कुछ उत्पादन अनुमान लगाया गया है जिससे उद्योग-व्यापार क्षेत्र सहमत संतुष्ट नहीं है क्योंकि आमतौर पर वहाँ इसमें गिरावट की संभावना व्यक्त की जा रही है।

धनिया का रकबा 1.26 लाख हेक्टेयर से उछलकर 2.23 लाख हेक्टेयर पर पहुंचने का अनुमान लगाया गया है। यह आंकड़ा भी संदेहास्पद माना जा रहा है। ईसबगोल का रकबा 13 हजार हेक्टेयर पर स्थिर रहा जबकि सौंफ का उत्पादन क्षेत्र 37 हजार हेक्टेयर से उछलकर 51 हजार हेक्टेयर पर पहुंच गया।

गुजरात में पिछले साल चना की बिजाई काफी बढ़ गई थी और मौसम अनुकूल होने उत्पादन भी शानदार हुआ था। (कृषि बाजार भाव सर्विस) लेकिन सरकारी खरीद के बावजूद बाजार भाव काफी नीचे होने से इस बार इसके बिजाई क्षेत्र में भारी गिरावट आ गई। rabi crops 2023

इसी तरह सरसों के बिजाई क्षेत्र में जिन तीन प्रांतों में गिरावट आई उसमें उत्तर प्रदेश एवं हरियाणा के साथ गुजरात भी शामिल है।

rabi crops 2023 | रबी फसल बुवाई आंकड़ा | crpos rabi |

यह भी जाने – pm किसान सम्मान निधि योजना में बड़ा बदलाव