WhatsApp Channel Join Now
Telegram Group Join Now
WhatsApp Group Join Now

Commodity trading news – सरसों सोयातेल चावल मक्का गेहुं मोठ मुंग बाजरा तुअर मसूर देसी चना काबुली चना राजमा उड़द तेज़ी मंदी समीक्षा

Commodity trading news । Trading news today 2022 । आज का ताजा मंडी भाव। ग्वार भाव! सरसों भाव ! अनाज मंडी भाव ! ग्वार तेज़ी मंदी रिपोर्ट 2022 ! ग्वार भाव भविष्य ! तुअर मसूर देसी चना तेज़ी मंदी रिपोर्ट ! Future trading market! Future trading prices 2022 ! किस फ़सल में तेज़ी आयेगी ! राजस्थान गैस सिलेंडर !

सरसों तेल : ज्यादा तेजी नहीं

हरियाणा व राजस्थान से आपूर्ति कमजोर होने तथा निचले स्तर पर ग्राहकी निकलने से सरसों तेल के भाव 100 रुपए बढ़कर 13600 रुपए प्रति क्विंटल हो गए। दादरी में इसके भाव 13500 रूपये प्रति क्विंटल पर मजबूत रहे! जयपुर में सरसों तेल कच्ची घानी के भाव 13600 रूपये प्रति क्विंटल बोले गए ! आपूर्ति एवं मांग को देखते हुए इसमें ज्यादा घटबढ़ की गुंजाइश नहीं है बाजार सीमित दायरे में घूमता रह सकता है।

सोया तेल : घटने के आसार कम

शिकागो से तेल वायदा में तेजी का रुख होने तथा आयातकों की बिकवाली से कांदला में भी सोया रिफाइंड के भाव 12700 रुपए प्रति क्विंटल बोले गए ! मध्य प्रदेश, महाराष्ट्र की मंडियों में सोयाबीन की कीमतों में मजबूती का रुख रहा ! बिकवाली कमजोर होने के कारण यहां पर सोया रिफाइंड के भाव 150 रुपए बढ़कर 13100 रूपये प्रति क्विंटल हो गये। स्टाक व मांग को देखते हुए इसमें तेजी की उम्मीद नहीं है !

चावल – धान की किल्लत से तेजी paddy future price

धान की किल्लत यूपी, हरियाणा, पंजाब, राजस्थान सभी क्षेत्रों की राइस मिलों में जबरदस्त बनी हुई है! यही कारण है कि धान 1121 प्रजाति का 4600/4675 रुपए प्रति क्विंटल यूपी, हरियाणा, पंजाब में बिक गया ! 1509 धान के भाव 4050/4275 रुपए प्रति क्विंटल यूपी, हरियाणा की राइस मिलों में उतर रहे हैं ! इसके अलावा 1718 धान का व्यापार भी 4200/4350 रुपए तक हो गया है, इन परिस्थितियों में अभी भी सेला एवं स्टीम के पड़ते 300/400 रुपए वर्तमान भाव से महंगे लग रहे हैं ! अतः आगे बाजार तेज ही रहेगा।

मक्की – उत्पादक मंडियों में आवक घट

मध्य प्रदेश, छत्तीसगढ़ एवं महाराष्ट्र के उत्पादक मंडियों में मक्की की आवक टूट गई है ! जिसके चलते वहां मंडियां 2170/2180 रुपए लूज़ में बिकने लगी है! रैक प्वाइंटों पर 2180 रुपए तक व्यापार होने के बाद लिवाल पीछे हट गए हैं, क्योंकि नीचे के भाव से हाल ही में 100 रुपए प्रति क्विंटल की तेजी वहां आ गई है ! यहां भी 25/30 रुपए बढ़कर 2375/2400 रुपए तथा हरियाणा-पंजाब पहुंच में 2400/2425 रुपए का व्यापार हो गया तथा बाजार सौ रुपए और बढ़ सकता है।

गेहूं- महंगाई के लिए ओएमएसएस में बेचना पड़ेगा

गेहूं की बिजाई को देखते हुए आने वाला उत्पादन बंपर होने वाला है, लेकिन वर्तमान की किल्लत के लिए सरकार को केंद्रीय पूल से गेहूं को ओएमएसएस के माध्यम से खुले बाजार में बेचना ही एक मात्र उपाय है। गौरतलब है कि पूना, बंगलौर, कोयंबटूर, सेलम आदि क्षेत्रों की रोलर फ्लोर मिलों की लगातार मांग एमपी से चल रही है तथा वहां भी अब माल नहीं मिल रहा है, इन परिस्थितियों में सरकारी गेहूं बिकने तक तेजी कायम रहेगी।

बाजरा तेजी मंदी रिपोर्ट Commodity trading news

बाजरे का उत्पादन सामान्य होने के बावजूद दूसरे का खाद्यान काफी महंगे होने से लगातार खपत व वितरक वाली मंडियों की मांग बनी हुई है! पोल्ट्री उद्योग में भी मक्की के भाव काफी ऊंचे होने से बाजरे की खपत बढ़ गई है! दूसरी ओर अन्य खाद्य पदार्थों के लिए भी बाजरा लगातार कारोबारी खरीद रहे हैं तथा स्टॉकिस्ट मैदान में निरंतर बने हुए हैं ! इन सारी परिस्थितियों में 2175 रुपए मौली बरवाला पहुंच में बाजरा जल्दी 50 रुपए बढ़ जाएगा

तुवर अभी 100 रुपए ऊपर-नीचे चलेगी

महाराष्ट्र-कर्नाटक में नयी तुवर आ गई है, लेकिन चौतरफा सिंचाई का संसाधन होने से तुवर का बिजाई रकवा दिन प्रतिदिन घटता जा रहा है, जिससे अब वहां के माल के पड़ते उत्तर भारत में कम लग रहे हैं। इधर चेन्नई में भी वर्तमान भाव पर और घटाकर बिकवाल नहीं आ रहे हैं। जो नीचे में 2 दिन पहले 6800 रुपए बोल गए थे, उसके भाव 6900 रुपए बोलने लगे हैं। यहां भी लेमन तुवर 7350 से कम में बेचू नहीं आ रहे हैं, इन परिस्थितियों में वर्तमान भाव पर अभी व्यापार करना चाहिए।

मसूर यहां से कुछ मजबूती संभव

मसूर की नई फसल फरवरी माह में आ जाएगी ! तथा बिजाई भी चारों तरफ अच्छी होने की खबरें आ रही है ! इसमें कोई संदेह नहीं है! इन सब के बावजूद पिछले दिनों की आई गिरावट के बाद इससे नीचे का पड़ता विदेशी मालों के भी नहीं है ! जिससे बाजार यहां से 100/150 रुपए प्रति क्विंटल बढ़ सकता है। अतः वर्तमान भाव में एक बार मसूर का व्यापार करना चाहिए।

Commodity trading news – चना में तेज़ी कब आएगी

काबली चना- कुछ दिन ठहराव के बाद बढ़ेगा

काबुली चने की नई फसल आने में पूरा दो-ढाई महीने का समय बाकी है! उस हिसाब से मध्य प्रदेश, यूपी, हरियाणा, पंजाब, दिल्ली किसी भी मंडी में स्टॉक ज्यादा नहीं है ! इन परिस्थितियों में 15 जनवरी के बाद साया चलने पर एक बार फिर काबली चने की खपत बढ़ेगी तथा बसंत पंचमी 26 जनवरी को है, उस दिन बेबूझ साया होता है तथा आगे भी काबली चने की खपत रहेगी ! अत: बाजार एक बार फिर बढ़ेगा

देसी चना- घटने की गुंजाइश नहीं

राजस्थानी चना का बिजाई रकवा घटने की खबरें आ रही है। महाराष्ट्र मध्यप्रदेश में भी चने की बिजाई कम हुई है !, इन सबके बावजूद दाल मिलों की मांग अनुकूल नहीं है, ! जिससे पुराने स्टॉक माल ही दाल मिलों में पड़ते की आपूर्ति कर रहे हैं! !जिससे बाजार अपेक्षि नहीं हो रहा है। आगे जनवरी में बाजार एक बार 5300 रुपए बन सकता है, उससे अधिक तेजी नई फसल आने पर ही बन पाएंगी! उससे पहले अब मुश्किल लग रहा है।

राजमा- Commodity trading news

राजमां चित्रा का प्रेशर मुंबई में भी ज्यादा नहीं है! आयातक विक्री के हिसाब से ही माल मंगा रहे हैं! लेकिन हल्के भारी माल ज्यादा उतरने से बढ़िया माल की कदर थोड़ी बढ़ गई है, ऐसी बाजारों में चर्चा है! आज भी ब्राजील का एवरेज माल 108/110 रुपए प्रति किलो थोक कंटेनर मुंबई में बोल रहे हैं बढ़िया माल 111/112 रुपए भी लोग बोल रहे हैं! इन सब के बावजूद लगातार हल्के माल जो उतर रहे हैं! वह बढ़िया माल में को भी बढ़ने नहीं देंगे।

उड़द फ्यूचर मार्केट प्राइस

उड़द में पिछले 10 दिनों के अंतराल 300/350 रुपए प्रति क्विंटल की गिरावट ,के बाद 125 / 150 रुपए की मजबूती आ गई है! उड़द एसक्यू 7825/7850 रुपए तथा एफ ए क्यू 7200/7225 रुपए बोल रहे हैं ! अभी देसी-विदेशी माल का कुछ दिन प्रेशर नहीं रहेगा त! था दाल मिलों से लेकर स्टॉकिस्टों के पास उड़द का स्टॉक नहीं है ! इसलिए जैसे ही दाल धोया एवं छिलका की बिक्री में सुधार होगा! बाजार 200 रुपए की और बढ़त पर बंद होगा!

मूंग- व्यापार में कोई जोखिम नहीं

मूंग के व्यापार में दूर-दूर तक कोई जोखिम नहीं है! क्योंकि राजस्थान के अलावा और कोई माल निकट भविष्य में आने वाला नहीं है ! यूपी, झारखंड, एमपी, बिहार की मूंग आने में अभी चार-पांच महीने का समय लगेगा! हम मानते हैं कि दाल छिलका एवं धोया की बिक्री बहुत ही कमजोर चल रही है! लेकिन धोया के मतलब की जो मूंग 6700/6800 रुपए प्रति क्विंटल बिक रही है, इसमें कोई जोखिम नहीं है! बढ़िया माल भी 7300 रुपए के आसपास बिकने वाले अपने भाव पर बिकेंगे।

मोठ- व्यापार में कोई जोखिम नहीं

वर्तमान भाव पर मोठ में धोया बनाने वाली दाल मिलों की मांग निकलने लगी है !उधर नोहर मंडी काफी तेज चल रही है, जिससे आसपास की मंडियों का माल वही खप रहा है! दूसरी ओर बीकानेर एवं मेड़ता लाइन में भुजिया नमकीन बनाने वाली कंपनियों की अभी भी मांग बनी हुई है !, इन सारी परिस्थितियों को देखते हुए 6300 रुपए की मोठ में कोई जोखिम नहीं है!

अपील – किसान साथियों व्यापार अपने विवेक से करें हमारा उद्देश्य सिर्फ किसानो तक जानकारी पहुंचाना है ! किसी भी प्रकार के निवेश से पहले अपने वित्तीय सलाहकार से सलाह जरूर लें।

चिरंजीवी स्वास्थ्य बीमा योजना यहां क्लिक करें

राजस्थान फ्री स्मार्ट फोन योजना यहां क्लिक करें

रेडमी नोट 12 प्रो 5g लॉन्च यहां क्लिक करें

error: मित्र मेहनंत लगती है लिखने में , dmca लेना है तो कर लो कॉपी