WhatsApp Group से जुड़े
Join Now
Facebook Page (70k) से जुड़े Follow
Whatsapp Channel से जुड़े Follow Now

 

Grains india – मक्का चावल बाजरा गेहू भाव भविष्य 2023

गेहू भाव भविष्य 2023 – नमस्कार किसान साथियो देशभर की मंडियो के ताजा भाव के साथ आज हम आपके लिए लेकर आये है – फसलो की तेजी मंदी रिपोर्ट , फसलो के बाजारों के गहन अध्यन के बाद आप तक तेजी मंडी रिपोर्ट पहुंचाते है | जौ आपको अन्य कहीं नहीं देखने को मिलेगी | किसान मित्रो व्यापार अपने विवेक से करे हमारा उदेश्य सिर्फ किसानो तक स्टिक जानकारी पहुँचाना है |

गेहू भाव भविष्य 2023
गेहू भाव भविष्य 2023

सभी फसलो की तेजी मंदी रिपोर्ट – अन्य फसलो की तेजी मंदी रिपोर्ट थोड़ी देर में अन्य पोस्ट में आपको मिल जाएगी |

बाजरा भाव भविष्य – घबराहटपूर्ण बिकवाली से मंदा

यह भी जाने – सरसों की तेजी मंदी रिपोर्ट

सिंचाई पाईप लाइन सब्सिडी योजना 2023 यहाँ क्लिक करे

भारत रूस के आयात निर्यात रिकॉर्ड स्तर पर यहाँ क्लिक करे

बाजरे में सीजन पर आई तेजी दुख देने लगी है। गौरतलब है कि पिछले महीने जो बाजरा ऊपर में 2300 रुपए प्रति क्विंटल बिक गया था, उसके भाव आज 2125 / 2130 रुपए प्रति क्विंटल मौली बरवाला पहुंच रह गए हैं। वास्तविकता यह है कि एटा, मैनपुरी, इटावा, भरतपुर, हाथरस, मथुरा, आगरा लाइन में बाजरे की बिकवाली आ गई है। दूसरी ओर ग्राहकी की चौतरफा कमी बनी हुई है। यही कारण है कि बाजरा भी लगातार टूटता जा रहा है। वास्तविकता यह है कि अनाजों का मुख्य गेंहू नौ सौ रुपए घट जाने से सभी खाद्यान्नों पर इसका प्रभाव पड़ा है, लेकिन इसे भाव अब मजबूत शुरू हो गई है।

चावल भाव भविष्य – अभी व्यापार में जोखिम है

हम मानते हैं कि मंडियों में सभी तरह के बासमती धान की आवक किसानी क्षेत्रों से घट गई है, लेकिन चौतरफा स्टाफ के माल बिकवाली में आने लगे हैं।गौरतलब है कि सीजन में आई भारी तेजी को देखकर सभी राइस मिलों ने प्रतिस्पर्धात्मक खरीद की गई थी, आगे घरेलू एवं निर्यात मांग को देखकर राइस मिलों को अनुमान था कि आगे के व्यापार के लिए धान की उपलब्धि नहीं रहेगी । इन्हीं कारणों से लगातार धान खरीद स्टॉक में किया गया था, उसी के साथ से चावल भी निरंतर बढ़ गए थे, लेकिन पिछले एक महीने से चावल का व्यापार पूरी तरह ठंडा पड़ गया है, जिससे राइस मिलें भाव घटाकर बिकवाली में आने लगी हैं, लेकिन धान में भारी नुकसान जा रहा है। अतः व्यापार निकट में अभी तेजी का नहीं करना चाहिए।

मक्की भाव भविष्य – अभी ग्राहकी की भारी कमी


एमपी-महाराष्ट्र के बाद मक्की की कोई फसल अभी नहीं आई है, लेकिन गेहूं में पिछले एक महीने के अंतराल 900 रुपए प्रति क्विंटल की उल्लेखनीय गिरावट के चलते मक्की का व्यापार भी ठप पड़ गया है। मक्की में भी हरियाणा पंजाब की मांग पूरी तरह ठंडी पड़ गई है। स्टार्च मिल वाले भी नहीं खरीद रहे हैं। वही उत्पादक मंडियों के कारोबारी लगातार घटाकर बेचू आ रहे हैं। मंडियों में मक्की 1975/1980 प्रति क्विंटल का भाव लूज में रह गयी है। उक्त मंडियों में 2030/2050 तक वहां गोदाम पहुंच में व्यापार सुना गया है तथा स्थिति को देखते हुए अभी निकट में तेजी नहीं लग रही है

गेहूं भाव भविष्य 2023 – तेजी मंदी रिपोर्ट –

इस समय टेंडर में लगातार गेहूं की बिकवाली होने लगी है, आज टेंडर में प्रतिभागी कम सुने गए, जिससे 15 फरवरी की अपेक्षा माल भी कम बिका तथा भाव ( गेहू भाव भविष्य 2023 ) भी नीचे रहे। सरकार द्वारा भारत के सभी राज्यों में 2100/2150 रुपए प्रति क्विंटल बेसिक प्राइस कर दिया गया है, इस वजह से बाजार यहां टूटकर 2375 / 2385 रुपए प्रति क्विंटल के बीच रह गया है। नई फसल के प्रेशर में एक महीने का समय बाकी है तथा सरकार को लक्ष्य के अनुरूप माल गेहूं खरीदने के लिए बाजार में अपना माल सस्ता बेचना पड़ रहा है, क्योंकि भाव नीचे आने पर ही 2125 रुपए प्रति क्विंटल में सरकार को गेहूं मिल पाएगा। (गेहू भाव भविष्य 2023 )

गेहू भाव भविष्य 2023 | धान का भाव | बाजरा का भाव आज का | गेहू का rate | मक्का का भाव | मक्का में तेजी कब आयेगी |

error: मित्र मेहनंत लगती है लिखने में , dmca लेना है तो कर लो कॉपी