WhatsApp Channel Join Now
Telegram Group Join Now
WhatsApp Group Join Now

Sarso bhav ;देश की सबसे बड़ी सरसों मंडी सुनी ,पीक सीजन होने पर 65 भी मिल् बंद , सरसों की रिपोर्ट

नमस्कार किसान साथियो सरसों का सीजन अपने पीक पर चल रहा है . ऐसे में देश की सबसे बड़ी सरसों मंडी सुन्नी पड़ी हुई है , जानेगे सरसों के बाजार की ताजा रिपोर्ट और खबर , आज का सरसों का भाव , सरसों का भाव भरतपुर मंडी आज का , आज का सरसों भाव , सरसों का भाव सभी जानकारी

सबसे बड़ी सरसों मंडी

65 मिले हुई बंद सरसों तेल का बाजार पिटा

किसान साथियो सरसों का सीजन अपने पीक पर है . फिर भी मंडियो और मिलो में सनाटा छाया हुआ है , मशीनों की आवाजे शांत है .किसान साथियो सरसों के तेल का कारोबार आज से 4 साल पहले की स्थिति में आ पहुंचा है .सरसों तेल के थोक भाव देखे जाये किसान साथियो सरसों तेल के थोक भाव 103 रु किलो चल रहा है .हालाकि करोना काल से पहले सरसों तेल का भाव 80 से 84 रु प्रति किलो था .

करोना काल में सरसों तेल की बहुत बेहतरीन मांग निकलने के कारण सरसों के तेल की मांग बढ़ी और भाव 200 रु प्रति किलो पार जा चुके थे . लेकिन अब की कड़ी को देखा जाए तो अबकी बार सरसों के किसानो का हाल बहुत बुरा बना हुआ है सरसों का भाव भी msp से काफी निचे आ टिका है . वही इस सीजन में सरसों तेल की मांग को पाम तेल ,राइस तेल ,और सोया तेल ने सरसों का मार्केट तोड्ने का काम किया है . सरसों के बाजार को आधा कर के रख दिया है .

जाने आज के सरसों के भाव 22 मई तेजी रही या मंदी MUSTARD PRICE TODAY

सरसों तेल प्रोडूसर aso के जनरल स्केरट्री कृषण कुमार अगरवाल से हुई बातचीत के मुताबिक भारत में हर महीने 13 लाख टन खाद्य तेल की डिमांड है जो की बहुत कम है जिसके कारण सरसों की 65 मिले बंद हो चुकी है . कमजोर मांग के चलते मीलो को करना पड़ा बंध , चालू मिले भी अपनी जरूरत के हिसाब से सरसों की खरीद कर रही है .

देश की सबसे बड़ी मंडी सरसों मंडी सुनी ; सरसों का भाव आया msp से 500 रु निचे

* पिछला सप्ताह सुरुवात सोमवार जयपुर सरसों 5200 रुपये पर खुला था। ओर शनिवार शाम 5200 रुपये पर बंद हुआ। पिछले सप्ताह के दौरान उठा-पटक के साथ प्लांट बालो की मांग सिमित रहने से स्थिर दर्ज हुआ, विदेशी बाज़ारों में गिरावट के बावजूद सरसो तेल में बीते सप्ताह 2-3 रुपये / किलो की बढ़त दर्ज की गयी। खल की मांग में भी सुधार देखने को मिला जिसके चलते खल के भाव 40-50 क्विंटल तक बढे। निर्यात मांग मजबूत रहने से अप्रैल महीने में भारत ने 2.46 लाख टन। सरसो डोसी निर्यात किया। जयपुर सरसो सिमित घट बढ़ के बाद। इस सप्ताह लगभग स्थिर बंद हुआ। वहीं सलोनी के भाव में बीते सप्ताह 100 रुपये/ क्विंटल की बढ़त दर्ज की गयी।

गेहूं के भाव में तेजी जारी देखे आज के गेहूं के भाव

सरसो के भाव मंडियों में एमएसपी से काफी निचे हैं फिर भी सरकारी खरीदारी धीमी है। 19 मई तक नाफेड ने 5.84 लाख टन सरसो ही ख़रीदा है। नाफेड की खरीदारी 10 से 12 लाख टन के बीच सिमट सकती है। ख़रीदे हुए स्टॉक को बाद में नाफेड कीमतों को नियंत्रित करने के लिए इस्तेमाल करेगी। विदेशों से सस्ता विदेशी तेल का बड़ी मात्रा में आयात के चलते प्रोसेसर्स ऊँचे भाव में सरसो पकड़ने से बच रहे हैं। विदेशों में तेलों की पर्याप्त सप्लाई और घरेलु बाजार में खाद्य तेलों के ऊँचे स्टॉक के कारण सरसो की क्रशिंग कमजोर। अगले 10-15 दिन लिए सरसो के भाव निचे में 100-150 और ऊपर 200-250 के बीच व्यापार करने का अनुमान।व्यापार अपने विवेक से करें*

error: मित्र मेहनंत लगती है लिखने में , dmca लेना है तो कर लो कॉपी