WhatsApp Channel Join Now
Telegram Group Join Now
WhatsApp Group Join Now

धान की खेती ; इन किस्मो से करे और कमाए अधिक मुनाफा ; धान की टॉप 10 किस्म

नमस्कार किसान साथियो धान की खेती भारत में खरीफ के सीजन में की जाती है । मुख्यत बिहार ,पंजाब , उतरप्रदेश , छतीसगढ़ , झारखण्ड ,बंगाल और हरियाणा जैसे राज्यों में धान की फसल मानसून के सीजन में लगाई जाती है । इन राज्यों के किसान मानसून के समय धान की खेती करते है । 

धान की खेती और उन्नत किस्म
धान की खेती और उन्नत किस्म

किसान साथियो आज की पोस्ट में जानेगे इन राज्यों की मिटटी और जलवायु के हिसाब से धान की टॉप उन्नत किस्मो के बारे में । धान की खेती आप in उन्नत किस्मो के साथ कर के अच्छा मुनाफा कम सकते है । आइय जानते है  धान की प्रमुख टॉप उन्नत किस्मो के  बारे में । किसान मित्रो आपकी जानकारी के लिए आपको बता दे की पुरे भारत में धान की खेती 128 अलग अलग किस्मो के साथ की जाती है ।

सरसों बाजार रिपोर्ट जाने सरसों का बाजार कैसा रहेगा ; सरसों का भाव कब बढ़ेगा 2023

सोलर पंप के लिए आवेदन अंतिम तिथि से पहले करें आवेदन ;सोलर पंप पर 75 फ़ीसदी सब्सिडी ऐसे उठाए लाभ

गेहूं की कीमते हुई मजबूत क्या रहेगा आगामी बाजार जानिए हमारी खास रिपोर्ट में देखे

धान की अच्छी पैदावार देने वाली प्रमुख कुछ किस्मे –

किसान मित्रो भारत में जलवायु और मिटटी के हिसाबं से धान की खेती के लिए प्रमुख उन्न्त किस्म – बासमती 370 , पूषा सुगंध ,हायब्रिड 620 , पीअच बी 71 , पूसा 1460 , अनामिका , पी आर 122 , नडीआर 359 ,किस्मो का सर्वाधिक उपयोग धान की खेती में किया जाता है ।

गत वर्ष भारतीय कृषि अनुसन्धान केंद्र संसथान , पूसा नयी दिल्ली ने बासमती धान की प्रमुख 3 पुराणी किस्मो के अंदर सुधार कर तिनं किस्मो को विकसित किया है । जू की निम्न है 1847 , 1855 , और 1866 जौ की बिना कीटनाशक के उपयोग के अधिक पैदावार देती है ।

धान की टॉप उन्नत किस्मे  निम्न है –

पूसा सुगन्ध 3 –  इस किस्म के की रोपाई किसान मित्रो जून महीने के दुसरे सप्ताह से लेकर के जुलाई सप्ताह माह के पहले सप्ताह तक की जाती है । यह एक बोनी किस्म है सुगन्धित बासमती की । इसे साल 2021 के अंदर बासमती चावल उत्पादक राज्यों के लिए विकसित किया गया था । जैसे पंजाब , हरियाणा , मध्यप्रदेश , बिहार आदि

पूसा 1460  – किसान मित्रो धान पूसा 1460 को धान की उन्न्न्तकिसम माना जाता है । इसमें धान की पोध का आकार छोटा होता है । इस किसम में धान की फसल 120 से 125 दिनों में पक कर तयार हो जाती है । उपज की बात करे तो इस किस्म के माध्य से आप 50 से 55 क्विंटल प्रति हेक्टेयर की उपज ले सकते है ।

एनडीआर 359 –  किसान साथियो धान की यह किस्म 130 से 135 दिनों का समय पकने में लेती है । किसान मित्रो धान की यह किस्म सबसे कम समय में पाक कर तयार हो जाती है । इसका सबसे अधिक उपयोग उतरप्रदेश ,उड़ीसा और बिहार राज्य के किसान करते है ।

पीआर 122 धान की यह किसान किसान मित्रो पंजाब राज्य के लिए बने गयी है । क्यूंकि यह किस्म पंजाब की मिटटी और जलवायु केअनुसार विकसित की गयी है ।यह किस्म 140 से 147 दिनों में पककर तयार होती है । इसकी औसतन उपज 30 से 35 क्विंटल प्रति हेक्टेयर तक है ।

 आईआर 36 सूखा-1  –   किसान साथियो यह किस्म सुखा को सहन करने वाली एकमात्र किस्म है । इस किस्म को कम बारिश और कम पानि वाले क्षेत्रो के लिए विकसित किया गया था । यह किस्म मात्र 110 से 115 दिनों में पककर तयार हो जाती है । यह 40 से 45  क्विंटल प्रति हेक्टेयर तक उपज देती है ।

अनामिका – यह धान की सबसेउन्नत  प्रजातियों के अंतर्गत आती है । इस किस्म की अधिकांश खेती बंगाल , बिहार ,उड़ीसा ,और असं में सबसे अधिक की जाती है । यह 140 से 147 दिनों में पक्ककर तयार हो जाती है ।इसके दाने मौते और लम्बे पाए जाते है ।

किसान साथियो हमारा उदेश्य किसानो तक जानकारी पहुँचाना है । किस्मो का चुनाव आप अपने विवेक से करे । किसी भीप्रकार के लाभ और हानि के लिए farming xpert जिमेवार नहीं है ।

रोजाना देशभर की हाजिर मंडियो के ताजा भाव , मौसम जानकारी , फसलो की साप्ताहिक तेजी मंदी रिपोर्ट और खेती बाड़ी से जुडी हर प्रकार की जानकारी के लिए विजिट करे farming xpert की वेबसाइट को । धन्यवाद जय जवान जय किसान

error: मित्र मेहनंत लगती है लिखने में , dmca लेना है तो कर लो कॉपी