WhatsApp Channel Join Now
Telegram Group Join Now
WhatsApp Group Join Now

गेहूं भाव तेजी मंदी रिपोर्ट 2023 देखे क्या रहेगा आगे

गेहूं भाव तेजी मंदी रिपोर्ट 2023

पिछले सप्ताह सुरुवात सोमवार दिल्ली गेहूँ 2460/65 रुपये पर खुला था ओर शनिवार शाम दिल्ली गेहूँ-2450 रुपये पर बंद हुआ, बीते सप्ताह के दौरान गेहूँ मे मांग न रहने से -15 रुपए प्रति कुंटल की गिरावट दर्ज हुआ,बाजार के जड़ में मंदी नहीं है।

गेहूं रिपोर्ट

परंतु सरकार अपना पूर्ण प्रयास करेगी की भाव नियंत्रण में रहे यदि बाजार में दुबारा अच्छी तेजी का दौर बना तो सरकार द्वारा IMPORT पर कोई निर्णय जल्द ही लिया जायेगा और यदि IMPORT पर कोई निर्णय सरकार लेती है। तो बाजार महीने भर के लिए टूट जायेंगे यदि दिल्ली लाइन सोमवार को 2430 के उप्पर बंद होता है। तो पूरी उम्मीद है 28 जून के पहले 2500 के आकड़े को भी पार कर जाएगी बाजार में आवक की चाल यदि ऐसी ही बनी रही तो सरकार का हर प्रयास तेजी को रोकने में विफल होगा बाजार में बढ़ती आवक ही बाजार के दाम को धीमी कर सकती है।

बिपरजोय तूफान ने दिखाया अपना तांडव इन जगहों पर भारी बारिश

स्टॉकलिमिट आदेश

स्टॉकलिमिट 31 मार्च 2024 तक लागू रहेगा स्काइमेट 9 जुलाई तक देश में मॉनसून कमजोर रहने की संभावना पंजाब के बाज़ारो में आयी पूर्ण रूप से रिकवरी, बाजार अपने उचतम स्तर से सिर्फ 25 से 50 रूपए निचे कर रहे कारोबार उत्तरप्रदेश के कुछ बाज़ारो में जो स्टॉक लिमिट लगने के कारण गिरावट आयी थी वो पूर्ण रूप से रिकवर होकर अपने पुराने भाव पर कारोबार कर रहे है। वहीं कुछ बाज़ारो में अब भी 100 रूपए की गिरावट बनी हुई है।

कोलकाता में भी बाजार के भाव हुए कॅमजोर 200 रूपए की गिरावट बाजार मैं दर्ज की गयी थी जिसमे से 100 रूपए की रिकवरी हो चुकी है। आटा और मैदा के भाव में कोई विशेष गिरावट नहीं दिखी खाद्य मंत्रालय ने कहा कि राज्यों को राष्ट्रीय खाद्य सुरक्षा अधिनियम (NFSA) और अन्य ‘केंद्रीय’ कल्याणकारी योजनाओं के तहत उनकी पात्रता के अलावा अतिरिक्त मात्रा की पेशकश नहीं की जाएगी।

अध्यक्ष एवं प्रबंध निदेशक अशोक के मीणा गुरुवार को यह बात कही। OMSS के तहत, सरकार ने मार्च 2024 तक केंद्रीय पूल आटा मिलों, निजी व्यापारियों, थोक खरीदारों और गेहूं उत्पादों के निर्माताओं से 15 लाख टन गेहूं की बिक्री करने का फैसला किया है। हम 28 जून को होने वाली पहली ई-नीलामी में 3-5 लाख टन गेहूं की पेशकश करेंगे।

पंजीकरण प्रक्रिया शुरू हो चुकी है। उन्होंने कहा कि पूरे भारत में 31 दिसंबर तक उचित और औसत गुणवत्ता के लिए गेहूं का आरक्षित मूल्य 2,150 रुपये प्रति क्विंटल और ढीली विशिष्टताओं (URS) के तहत 2.125 रुपये प्रति क्विंटल निर्धारित किया गया है।

खरीदार गेहूं के लिए न्यूनतम 10 टन और अधिकतम 100 टन प्रति ई-नीलामी के लिए बोली लगा सकते हैं। बाजार में FCI के तहत OMSS की बिक्री नहीं होगी ऐसी बात हो रही है। इसकी कोई जानकारी FCI के पोर्टल पर नहीं दी गयी है। चोकर के दाम पुनः मजबूत होना शुरू हो चुके है। आज अधिकांश बाजार में अच्छी तेजी दर्ज की गयी।
व्यापार अपने विवेक से करें

दोस्तों हमारी वेबसाइट पर आपको रोजाना ताजा मंडी भाव, फसलो की तेजी मंदी रिपोर्ट. वायदा बाजार भाव, खेती बाड़ी समाचार, मौसम जानकारी और खेती बाड़ी से जुडी सभी जानकारियां उपलब्ध करवाई जाती है। साथियों व्यापार अपने विवेक से करे एवम किसी भी प्रकार का निवेश करने से पहले एक बार आंकड़े जरुर चेक करे। facebook और YOUTUBE पर हमसे जुड़ने के लिए सर्च करे FARMING XPERT

error: मित्र मेहनंत लगती है लिखने में , dmca लेना है तो कर लो कॉपी