WhatsApp Channel Join Now
Telegram Group Join Now
WhatsApp Group Join Now

फ़सल में पोटाश कब डालना चाहिए; पोटाश का महत्त्व और अन्य जानकारियां

नमस्कार किसान मित्रो आज की पोस्ट में जानेंगे फसलों के अंदर पोटाश का महत्त्व क्या होता है । फसलों में पोटाश क्यों डालना चाइए, और कितना एवम कब डालना चाहिए। पोटाश से जुड़ी जानकारी नीचे दी गई है पोस्ट को ध्यानपूर्ण पढ़े।

पोटाश का महत्त्व
पोटाश का महत्व

” पोटाश का मतलब ही ताकत हैं ” मेरे प्यारे किसान साथियों पोटाश (पोटाश का महत्त्व ) हमारी फसलों में फल के साईज और क्वालिटी को बढ़ाने के साथ साथ पौधें को ताकत देता हैं जिससे हमारी फसल रोग और किंटो से आसानी से लड़ती हैं । अगर और पोषक तत्वों के साथ दिया जाएं तो उन पोषक तत्वों की ताकत भी बढ़ा देता हैं ।जैसे NPK 20:20:20,13:0:45,0:52:34 आदि ।

Potash (पोटाश) की कमीं के लक्ष्ण – पोटाश का महत्त्व

निचे वाली पत्ती के किनारे जलने जैसे हो जाते हैं | यह अपनी कमीं जल्दी से नहीं दिखाता | अगर कपास में इसकी कमीं के लक्ष्ण दिखाई दे रहे हैं तो समझ जाना कि कपास की फसल आपने मार रखी हैं

जीरा में तूफानी तेजी ग्वार गम भी तेज देखे आज का वायदा बाजार भाव NCDEX MCX

ये होती है कपास की तीन स्टेज जानें कपास की खेती से जुड़ी महत्वपूर्ण जानकारी

फसलों में पोटाश कब देना चाहिए –

हर अवस्था में जरूरी हैं चाहे बिजाई के समय हो या फिर फुलों की अवस्था हो । फल की अवस्था के समय तो सारा खेल ही पोटाश रचता हैं।

नोट – कपास और सरसों में डीएपी की बजाय NPK 12:32:16 दें तो ज्यादा बेहतर रिजल्ट मिलेंगे

किसान साथियों किसी भी प्रकार के कीटनाशक दवाएं के छिड़काव से पहले अपने कृषि विशेषज्ञ से सलाह जरूर लें। धन्यवाद

error: मित्र मेहनंत लगती है लिखने में , dmca लेना है तो कर लो कॉपी