WhatsApp Channel Join Now
Telegram Group Join Now
WhatsApp Group Join Now

क्या सरसों फिर पलटेगी बाजी? जानिए बाजार की पूरी हलचल आज की सरसों तेजी मंदी रिपोर्ट में

नमस्कार किसान भाइयो क्या सरसों फिर पलटेगी बाजी? जानिए बाजार की पूरी हलचल आज की सरसों तेजी मंदी रिपोर्ट में। दोस्तों पिछले काफी समय से सरसों ने किसानो को निराश किया है और अभी भी बाजार में सरसों के हालत काफी खराब है जिससे किसानो को अछे भाव नहीं मिल पा रहे आइये जाने है सरसों का बाजार इस सप्ताह कैसा रह सकता है और क्या एक बार फिर सरसों किसानो में खुशियों की लहर ला पायेगी।

क्या सरसों फिर पलटेगी बाजी

चना रिपोर्ट 2023 , माल न होते हुए भी बाज़ार दबा हुआ जानें खास रिपोर्ट

साथियों पिछले सप्ताह की शुरुआत में सोमवार को जयपुर सरसों भाव 5500 रूपये पर खुला था जो की सप्ताह के अंत में शनिवार आते आते 5100 पर बंद हुआ। दोस्तों पिछले सप्ताह की बात करे तो पिछले सप्ताह बिकवाली बढ़ने के साथ और मांग कमजोर बन्ने से सरसों भाव में 400 रूपये/क्विंटल की गिरावट दर्ज की गयी वाही वैश्विक बाजार में खाद्य तेल मार्केट में मंदी से सरसों में गिरावट बढ़ी।

दोस्तों पिछले सप्ताह सलोनी 175 और भरतपुर में सरसों के भाव में 160 रूपये की गिरावट दर्ज की गयी हालाँकि सप्ताह के अंत में बिकवाली घटने और मिलो की घंटे भाव पर लेवाली से भाव में थोडा सुधार जरुर दर्ज किया गया। दोस्तों बात करे जयपुर सरसों बाजार भाव की तो जयपुर सरसों बाजार भाव इस सप्ताह अपने प्रमुख 5380 से निचे आकर 2 साल के सबसे निचले स्तर पर बंद हुआ। सरसों तेल और खल की मांग कमजोर होने से और अन्य खाद्य तेलों में मंदी ने सरसों का सेंटिमेंट भी ख़राब किया। सरसों में फ़िलहाल उम्मीद से ज्यादा और समय से पहले ही काफी गिरावट का सामना करना पड़ रहा है क्यंकि अभी शुरूआती सीजन है और आगे समय भी बहुत पड़ा है सिल्ये सरसों में सुधार आने की पूरी सम्भावना बनी हुई है।

डॉलर चना तेज़ी मंदी रिपोर्ट 2023 घरेलू बाज़ार में बढ़ी पूछ परख

सरसों में आगे क्या रह सकता है

दोस्तों सरसों भाव में सरकारी खरीद का भी कोई खास सपोर्ट नहीं मिल पा रहा और सरसों के भाव फ़िलहाल MSP से भी 10-15 % निचे खिसक गए है। इस स्तर से गिरावट बढ़ने पर किसान की बिकवाली भी घटेगी। दोस्तों वर्तमान स्तिथि की बात करे तो वर्तमान में स्टोकीस्टॉ और मील वालो ने ऊपर में काफी माल स्टॉक कर रखा है जिसली वजह से उन्हें भी काफी नुक्सम का सामना करना पड़ रहा है हनाकी सरसों की क्रशिंग से उनके नुकसान का आंकड़ा कफी कम है।

जहाँ पिछले सप्ताह 3000 टन का नुकसान हो रहा था वही अब नुकसान अब घटकर 2000 टन रह गया है। दोस्तों घंटे भाव की लेवाली निकलने से सरसों भाव में कुछ उमीद दिख रही है। हालाँकि इसमें विदेशी बाजारों का समर्थन जरुरी है और फ़िलहाल वर्तमान की बात करे तो वर्तमान में विदेशी बाजारों का सेंटिमेंट कमजोर बना हुआ है। विशेषज्ञों की माने तो मौजूदा गिरावट पर खरीददारी में जोखिम कम काम्बे समय के नजरिये के हिसाब से है हालाँकि सरसों में बड़ी तेजी की तो कोई उम्मीद नजर नहीं आ रही लेकिन भाव में कुछ सुधार होने की उम्मीद जरुर है। दोस्तों व्यापार अपने विवेक से करें।

दोस्तों हमारी वेबसाइट पर आपको रोजाना ताजा मंडी भाव, फसलो की तेजी मंदी रिपोर्ट. वायदा बाजार भाव, खेती बाड़ी समाचार, मौसम जानकारी और खेती बाड़ी से जुडी सभी जानकारियां उपलब्ध करवाई जाती है। साथियों व्यापार अपने विवेक से करे एवम किसी भी प्रकार का निवेश करने से पहले एक बार आंकड़े जरुर चेक करे। facebook और YOUTUBE पर हमसे जुड़ने के लिए सर्च करे FARMING XPERT

error: मित्र मेहनंत लगती है लिखने में , dmca लेना है तो कर लो कॉपी